Manav Jiwan Gatha

मानव जीवन गाथा

35

Book is a gem for those who want to live a meaningful life. It simply tells the way of living human life.

बचपन से लेकर मृत्यु पर्यन्त हमारा जीवन कैसा हो सुख दुःख में हमारा व्यवहार कैसा हो और हम संसार में रहकर भी परमात्मा से कैसे जुड़े रहें इन सब को मानव जीवन गाथा नामक पुस्तक में बतलाया गया है |

Language: Hindi
SKU: 13051 Category:

Available Check At

 

Cover Paper Back
Length (cms) 17.7
Width (cms) 12.1
Height (cms) 0.7
Qty Single Book
Translation / Original Original
Translator
Current Copy Year 2015
Total Page 164

बचपन से लेकर मृत्यु पर्यन्त हमारा जीवन कैसा हो सुख दुःख में हमारा व्यवहार कैसा हो और हम संसार में रहकर भी परमात्मा से कैसे जुड़े रहें इन सब को मानव जीवन गाथा नामक पुस्तक में बतलाया गया है | Specifications : Cover Paper Back Length (cms) 17.7 Width (cms) 12.1 Height (cms) 0.7 Qty Single Book Translation / Original Original Translator Current Copy Year 2015 Total Page 164
Weight 105 g
Dimensions 17.7 × 12.1 × 0.7 cm
Language

Hindi

Authors

Mahatma Anand Swami

Publisher

Vijay Kumar Govindram Hasanand

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.